सुलतानगंज मुरारका कॉलेज का 67वॉ स्थापना दिवस समारोह का उदघाटन तिलकामांझी विश्व विद्दालय के कुलपति रमेश कुमार सिन्हा ने संयुक्त रुप से किए

सुलतानगंज मुरारका कॉलेज का 67वॉ स्थापना दिवस समारोह का उदघाटन तिलकामांझी विश्व विद्दालय के कुलपति रमेश कुमार सिन्हा ने संयुक्त रुप से किए
WhatsApp Image 2021-01-08 at 15.08.21
WhatsApp Image 2021-01-17 at 13.22.37
tall copy
WhatsApp Image 2021-01-26 at 12.25.37
Untitled-1

भागलपुर

सुलतानगंज के मुरारका कॉलेज के प्रागण मे मुरारका कॉलेज का 67 वॉं स्थापना दिवस समारोह मनाया गया।इस कार्यक्रम की शुरुआत कॉलेज के छात्र व छात्राओं ने स्वागत गान से की ।कार्यक्रम के दौरान छात्र छात्राओं के द्वारा रंगारंग कार्यक्रम की प्रस्तुति कि गई।कार्यक्रम का उदघाटन तिलकामांझी विश्व विघालय के कुलपति रमेश कुमार सिन्हा, कॉलेज के प्राचार्य डा.अमरकांत सिंह, राकेश मुरारका डा.संजय चौधरी, के द्वारा दिप प्रज्जवलित कर उदघाटन किए।साथ ही मुख्य अतिथि द्वारा मुरारका कॉलेज की शुरुआत करने वाले स्व. रंगलाल मुरारका जी के तेलचित्र पर माल्यार्पण कर किए गए।कार्यक्रम के दौरान कॉलेज के प्राचार्य डा.अमरकांत सिंह ने मुख्य अतिथि का अंग वस्त्र व बुके देकर सम्मानित किए गए।। साथ ही प्राचार्य डा.अमरकांत सिंह ने नेशनल कैडेट कोर के छात्राओं को अंग वस्त्र व बुके देकर सम्मानित किए। वहीं शिक्षिकाओं ने कॉलेज के प्राचार्य डा.अमरकांत सिंह को बुके व इस्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किए।इस दौरान प्रार्चाय डा.अमरकांत सिंह ने संम्बोधित करते हुए कहा कि मुरारका कॉलेज मे कोर्मस की पढाई नहीं हो रही थी छात्राओं के मांग पर अब अगले सत्र से कोर्मस की पढाई शुरू हो जाएगी।

 

जो सरकार ने कोर्मस की पढाई की मंजुरी दे दि हैं।अंगिका की पढाई भी नहीं हो रही थी।अब अंगिका
की भी पढाई भी शुरू हो जाएगी।हमारे यहां के जो शिक्षक है उसे बदली कर भागलपुर भेज दिया जाता ।ऐसे मे छात्र छात्राओं को पढाई मे काफि कठनाई होती हैं।यह विश्व विघालय की कमी है जो शिक्षक को बदली कर भागलपुर भेज दिया जाता।इन समस्याओं पर ध्यान देकर शिक्षक की कमी को दुर किया जाए।साथ ही कॉलेज की चारदीवारी की मांग की । जमीन कॉलेज के नाम से मोटेशन नहीं हो पाया हैं उस पर ध्यान देने की बात कही। इसके लिए विधायक ,सीओ ,को भी अबगत कराया गया हैं।साथ चीन मे हो रहे भारत के साथ लडाई मे गलवान मे हमले के दौरान चिन के दो सेनाओ को मार गिराया था।उस दरबियान कॉलेज के छात्र उमेश कुमार घायल हो गए थे।जो डुयुटी मे चले गए हैं।मै उने भी सम्मानित करते अगर वह यहां रहते तो।

 

साथ ही हिरा प्रसाद हरेन्द्र जी के द्वारा लिखि किताब बाबा अनंत दास का कॉलेज के प्रार्चाय ने.मुख्य अतिथि के द्वारा किताब का विमोचन किए गए। कॉलेज की स्थापना स्व .रंगलाल मुरारका के पोता राकेश मुरारका ने अपने संम्बोधन मे कहा की कॉलेज के जो सहयोग होगा हम करेगे।और दादा की प्रतिमा स्थापित करने की बात कहे थै।जो करोना काल के वजह नहीं लगा पाए थे अब बहुत जल्द दादा जी का प्रतिमा लगाएंगे।साथ उनकी पुत्री सुशिला जी ने कहा की जब हम कॉलेज आते हैं लगता हैं हम घर आ गए हैं इसके लिए प्रार्चाय को धन्यवाद दिए।साथ ही तिलकामांझी विश्व विघालय के कुलपति रमेश कुमार सिन्हा ने संम्बोधन मे कहा कि कॉलेज की व्यवस्था के बारे मे विस्तार से बाताते हुए किस तरह कॉलेज मे सुविधा हो इसके लिए जानकारी दिए। जो इस कॉलेज को नंबर वन पर रखना चाहेंगे।इसके लिए सारी सुविधा प्रदान करुगा।मै इस कॉलेज का भी हम एक अंग हु।इस कार्यक्रम मे सीओ शंभुशरण राय,भाजपा नेता अरुण चौधरी, संजय चौधरी, चंदन कुमार, मनोज सिघांनिया, अशौक यादव,राजद के नेता अनरुध यादव,एंव कॉलेज के शिक्षक,शिक्षिका डा.नागेंद्र तिवारी,डा.अंशु कुमार, डा.राकेश कुमार, डा.राजीव कुमार रंजन,डा.नितु कुमारी, अरपिता मित्रा,अनुप श्रीविजेयनी,ममता कुमारी, एंव छात्र छात्राऐ मौजुद थे।

 233 total views,  21 views today

shyam ji

shyam ji

Leave a Reply