लोगों को दिग्भ्रमित कर रही है कॉन्ग्रेस : बाबूलाल मरांडी

लोगों को दिग्भ्रमित कर रही है कॉन्ग्रेस : बाबूलाल मरांडी
WhatsApp Image 2021-01-08 at 15.08.21
WhatsApp Image 2021-01-17 at 13.22.37
tall copy
WhatsApp Image 2021-01-26 at 12.25.37
Untitled-1

लोहरदगा : झारखंड के प्रथम मुख्यमंत्री व आज का विधायक दल के नेता माननीय श्री बाबूलाल मरांडी जी का परिभ्रमण कार्यक्रम का दूसरे दिन प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन गुदरी बाजार पूर्व जिला ब्रज बिहारी प्रसाद आवास पर आयोजित की गई। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौके पर क्षेत्रीय सांसद माननीय सुदर्शन भगत संगठन प्रभारी मनोज मिश्रा एवं जिला अध्यक्ष मनीर उरांव मिडिया प्रभारी पशुपति नाथ पारस उपस्थित थे।
मौके पर मुख्य अतिथि पूर्व मुख्यमंत्री माननीय बाबूलाल मरांडी जी ने प्रेस को संबोधित करते हुए कहा कि चमोली की घटना बहुत ही दुखद है फिर परिवार जनों को कैसे मदद मिले उसके लिए हम प्रयास करेंगे और राज्य सरकार को भी इन परिस्थितियों में आर्थिक सहायता राशि जैसे एक व्यक्ति की जो प्राप्त हुई है उसे ₹500000 की मदद राज्य सरकार को देनी चाहिए। दक्षिणी छोटानागपुर क्षेत्र कृषि आधारित क्षेत्र है यहां पर खेती आधारित है जो सुविधाएं हो सकते थे उसे और सुदृढ़ करने की जरूरत है यहां रोजगार आधारित आज रोजगार के अभाव में ही लोग पलायन कर रहे हैं और ऐसी समस्याएं उनके बीच आकर खड़ी हो रही है लोग पलायन को मजबूर हैं वर्तमान वैश्विक महामारी के बीच भी लोग पलायन किए हैं यह कहीं न कहीं राज्य सरकार की कमियां है वह अपने वादों को पूरा नहीं कर पा रही।
मौके पर उन्होंने कोरोना काल का भी जिक्र किया सरकार के 1 वर्ष पूरे हुए इसलिए विकास की चर्चा ना भी करें तो जो व्यवस्थाएं हैं सरकार कहीं भी सुनिश्चित नहीं कर पाए जिसके कारण आज पूरे राज्य भर में अवस्थाएं भरी पड़ी हैं लोग फिर से पुनः पलायन को मजबूर हैं और हादसे का भी शिकार हो रहे हैं कोरोना काल मैं स्वयं राज्य सरकार में जिला उपायुक्तों को चिट्ठी लिखकर को कोष खर्च न करने के आदेश पत्र के माध्यम से जारी कर दिए थे वही खनन जैसे क्षेत्रों में सरकार को अलग से रेवेन्यू प्राप्त होती है उसे भी राज्य सरकार दबाकर रखी।
वर्तमान में झारखंड राज्य में चोरी डकैती हत्या बलात्कार जैसी घटनाएं भी चरम सीमा पर है हाजे 1 वर्ष में लगभग 15 100 से ऊपर घटनाएं हुए हैं उसमें से 600 जनजाति समाज के लोग हैं और 400 दलित समाज से लोग हैं यह बहुत ही चिंतनीय विषय है राज्य के मुख्य रूप से दो विभाग थाना और अंचल की समस्या हम लोगों के बीच क्षेत्रों में घूमने के दौरान आता है और मजे की बात यह है कि दोनों विभाग मुख्यमंत्री स्वयं अपने हाथों में रखी है उसके बाद भी व्यवस्था को बनाने में असफल रहे हैं यह कहीं ना कहीं कुशल नेतृत्व नहीं रहने एवं दबाव में काम करने का परिणाम है।
कृषि बिल पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लोग केवल लोगों को दिग्भ्रमित कर रहे हैं जबकि केंद्र सरकार ने एमएसपी पहले भी थी अभी और भविष्य में भी रहेगी साफ-साफ कह दिया है किसानों को उचित उपज मूल्य मिल सके इसके लिए उसे स्वतंत्र कर दी है वह किसानों के हित के लिए है और आज वह खुश भी है परंतु सही बातों को कांग्रेसी एवं उनके लोग किसानों के बीच नहीं बता रहे हैं जिससे कि उनका भला हो सके।

मौके पर उन्होंने कहा हमें हमारी पार्टी अपोजिशन के के लिए नहीं कल की पोजीशन के लिए तैयारी करेगी और हमारा एक ही लक्ष्य है कि झारखंडवासियों का कल्याण कैसे करें जिस तरह से केंद्र सरकार गरीब से संबंधित जन कल्याणकारी योजनाओं को लाई है चाहे वह शिक्षा और स्वास्थ्य एवं अन्य जनसुरक्षा सुविधाएं उसी लक्ष्य के साथ निरंतर कार्य करते रहना है और अब कोरोना काल भी थोड़ा धीरे-धीरे साधारण हो रहा है सरकार यदि अपनी रवैया को नहीं सुधारती है तो जन सुरक्षा एवं सुंदर व्यवस्था भ्रष्टाचार के खिलाफ सड़क से लेकर सदन तक आंदोलन करेगी और विराट रूप से आंदोलन करेगी क्योंकि भाजपा हमेशा जन समस्याओं को लेकर संघर्ष करती रही है सत्ता से ज्यादा जनसेवा ही मायने रखता है।
साथ ही लोहरदगा में हिंडाल्को के समीप हो रहे धरने प्रदर्शन को लेकर कहा कि हमें इस बात की कोई जानकारी नहीं है और उसके मुख्य संरक्षक कांग्रेस के ही सांसद और मंत्री हैं और उनकी सरकार है इस समस्या उन्हें निकालने में परेशानी नहीं होनी चाहिए। मौके पर वरिष्ठ पदाधिकारी, नेता एवं युवा कार्यकर्ता गण उपस्थित थे।

 44 total views,  1 views today

shyam ji

shyam ji

Leave a Reply