बजट सत्र को लेकर सर्वदलीय बैठक का आयोजन

बजट सत्र को लेकर सर्वदलीय बैठक का आयोजन
WhatsApp Image 2021-01-08 at 15.08.21
WhatsApp Image 2021-01-17 at 13.22.37
tall copy
WhatsApp Image 2021-01-26 at 12.25.37
Untitled-1

पटना:-बिहार में नीतीश कुमार की सरकार बनने के बाद बिहार विधानमंडल का पहला बजट सत्र 19 फरवरी से शुरू होगा और 24 मार्च तक चलेगा. लगभग एक महीने चलने वाले इस सत्र में कुल 22 बैठकें होंगी. इसी दौरान 22 फरवरी को वित्तीय वर्ष 2021-22 का बजट सदन में पेश किया जाएगा. मंत्रिमंडल सचिवालय से मिली जानकारी के अनुसार, सत्र के पहले दिन राज्यपाल फागू चौहान विधानमंडल के विस्तारित भवन के सेंट्रल हॉल में दोनों सदनों के सदस्यों को संबोधित करेंगे. पहले ही दिन सरकार सदन में आर्थिक सर्वेक्षण पेश करेगी.
मंत्रिमंडल सचिवालय से जारी निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार, 20 और 21 फरवरी को बैठक नहीं होगी. 22 फरवरी को वित्तीय वर्ष 2021-22 का बजट सदन में पेश किया जाएगा. साथ ही राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव और वाद-विवाद होगा. इसके अगले दिन अभिभाषण पर सरकार का जवाब आएगा. 24 फरवरी को वित्तीय वर्ष 2020-21 का द्वितीय अनुपूरक बजट सदन में पेश होगा. इसके साथ ही 2021-22 के बजट पर सामान्य बहस भी इसी दिन होगी. इसके बाद 25-26 फरवरी को आगामी वर्ष के बजट पर वाद-विवाद और सरकार का जवाब होगा. 27-28 मार्च को कोई बैठक प्रस्तावित नहीं है. 1 मार्च से 5 मार्च के बीच 2021-22 की आय-व्यय के अनुदान मांगों पर वाद-विवाद मतदान होगा. 6 और 7 मार्च को बैठक नहीं होगी. 8 से 10 मार्च के बीच भी 2021-22 की आय-व्यय के अनुदान मांगों पर वाद-विवाद मतदान प्रस्तावित है.
11 मार्च को महाशिवरात्रि की वजह से बैठक नहीं होगी. 12 मार्च को भी विभागों की अनुदान मांगों पर वाद-विवाद तथा मतदान होगा. 13 व 14 मार्च को बैठक नहीं होगी. अनुदान मांगों और विनियोग विधेयक के लिए सरकार ने कुल 12 कार्य दिवस निर्धारित किए हैं. 24 मार्च को गैरसरकारी सदस्यों के गैरसरकारी संकल्प लेने के साथ ही विधानसभा की कार्यवाही अनिश्चितकाल तक के लिए स्थगित हो जाएगी.

 31 total views,  1 views today

shyam ji

shyam ji

Leave a Reply