प्रदेश में कानून व्यवस्था के नाम पर जंगल राज एवम् केंद्र सरकार की किसान विरोधी नीति के कारण किसान परेशान

प्रदेश में कानून व्यवस्था के नाम पर जंगल राज एवम् केंद्र सरकार की किसान विरोधी नीति के कारण किसान परेशान
WhatsApp Image 2021-01-08 at 15.08.21
WhatsApp Image 2021-01-17 at 13.22.37
tall copy
WhatsApp Image 2021-01-26 at 12.25.37
Untitled-1

लखनऊ

प्रदेश में कानून व्यवस्था के नाम पर जंगल राज एवम् केंद्र सरकार की किसान विरोधी नीति के कारण किसान परेशान हैं।
यह बात नूरपुर विधान सभा क्षेत्र के सपा विधायक हाजी नईमुल हसन ने लखनऊ में अपने विधायक निवास पर वार्ता के दौरान कही।
उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार तीन कृषि कानूनों के जरिए देश के किसानों की मेहनत को चंद पूंजीपतियों के हवाले करना चाहती है।।
दूसरी ओर प्रदेश मै कानून व्यवस्था के नाम पर जंगल राज है। आय दिन बलात्कार व हत्या के प्रकरण मीडिया के माध्यम से देखने व सुनने को मिलते रहते है। इतने पर भी प्रदेश सरकार कानून व्यवस्था के नाम पर अपनी पीठ थपथपाती रहती है। अपराधी बेखोफ है। महंगाई चरम पर है। डीजल व पेट्रोल की कीमतें आसमान छू रही हैं। जो भाजपा केंद्र की निवर्तमान सरकार पर पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ाने पर बयान बाजी किया करती थी, उसके नेता मौन क्यों है। अब हर क्षेत्र में महंगाई है फिर भी इसको देश हित में बताया जा रहा है।
अब प्रदेश व देश की जनता प्रदेश व देश की सरकार की कथनी व करनी को समझ चुकी है। निकट भविष्य में प्रत्येक महत्वपूर्ण विभाग कॉरपोरेट घरानों के हवाले हो जाएगा। गरीब , किसान व शिक्षित युवा वर्ग पूंजीपतियों के हाथों की कठ पुतली बन जाएगा।

 34 total views,  1 views today

shyam ji

shyam ji

Leave a Reply