39,174 का गोल्डेन कार्ड बना, बाकी तीन मार्च तक बनवाएं

39,174 का गोल्डेन कार्ड बना, बाकी तीन मार्च तक बनवाएं
WhatsApp Image 2021-01-08 at 15.08.21
WhatsApp Image 2021-01-17 at 13.22.37
tall copy
Untitled-1
WhatsApp Image 2021-03-05 at 1.52.50 PM

शिवहर

– 17 फरवरी से तीन मार्च तक आयुष्मान पखवाड़ा का आयोजन
– गोल्डेन कार्ड से वंचित पात्र लाभुकों के लिए पंचायत स्तर पर आज से विशेष अभियान

जिले में आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना अंतर्गत अब तक जिन पात्र लाभुकों को गोल्डेन कार्ड (ई-कार्ड) उपलब्ध नहीं हो सका है, उन्हें परेशान होने की जरूरत नहीं है। गोल्डेन कार्ड से वंचित पात्र लाभुकों को यह उपलब्ध कराने के लिए पंचायत स्तर पर विशेष अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए आयुष्मान पखवाड़ा का आयोजन 17 फरवरी से तीन मार्च तक किया जाएगा। आयुष्मान पखवाड़ा के दौरान सभी पंचायतों के आरटीपीएस पटल पर 15 दिनों तक गोल्डेन कार्ड बनाने के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा, ताकि गोल्डेन कार्ड की शत-प्रतिशत उपलब्धि प्राप्त की जा सके।

3,87,615 लाभुकों में से 39,174 का कार्ड बना
आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अंतर्गत जिले के कुल 3,87,615 लाभुकों के निर्धारित लक्ष्य में से शेष बचे लाभुकों का गोल्डन ई. कार्ड बनाने के लिए आयुष्मान पखवाड़ा की शुरुआत हुई है। आगामी 3 मार्च तक चलनेवाले आयुष्मान पखवाड़ा के दौरान जिले के सभी पंचायतों में शिविर लगाकर लाभुकों का गोल्डन ई. कार्ड बनाया जाएगा। इससे पहले आयुष्मान पखवाड़ा आयोजित कर जिले के कुल 3,87,615 लाभुकों के निर्धारित लक्ष्य में से 39,174 का गोल्डन ई. कार्ड बनाया जा चुका है।


पदाधिकारी और जनप्रतिनिधियों को सौंपी गई सूची
आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना शिवहर के जिला कार्यक्रम समन्वयक साहेब सिंह ने बताया कि प्रखंड स्तर पर गोल्डन कार्ड बनाने और वितरण की देखरेख प्रखंड स्तर पर कार्यरत प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी, स्वास्थ्य प्रबंधक, जीविका के प्रखंड कार्यक्रम प्रबंधक, प्रखंड विकास पदाधिकारी और स्थानीय जनप्रतिनिधि करेंगे। पंचायत स्तर पर लाभुकों को चिह्नित करने के लिए प्रखंड स्तर के पदाधिकारी एवं जनप्रतिनिधि, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी, आशा कार्यकर्ता, जीविका के अधिकारी और कर्मचारी को लाभुकों की सूची सौंप दी गई है।

साल में 5 लाख तक की नि:शुल्क चिकित्सा की सुविधा
आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत पात्र लाभार्थियों को वर्ष में पांच लाख रुपये तक की निःशुल्क चिकित्सा सुविधा का प्रावधान है। इस योजना की पूर्ण सफलता के लिए शत प्रतिशत पात्र लाभुकों को गोल्डेन कार्ड उपलब्ध कराना आवश्यक है, लेकिन अभी भी अधिकांश पात्र लाभुकों को गोल्डेन कार्ड उपलब्ध नहीं कराया जा सका है। पूरे जिले में लक्ष्य के अनुसार पात्र लाभुकों को अब तक गोल्डेन कार्ड नहीं उपलब्ध कराया जा सका है। इसी स्थिति को देखते हुए आयुष्मान पखवाड़ा के जरिए विशेष अभियान चलाकर शत प्रतिशत पात्र लाभुकों को गोल्डेन कार्ड बनाने का लक्ष्य रखा गया है।

प्रचार-प्रसार के जरिए जागरूक किया जाएगा
जिला कार्यक्रम समन्वयक साहेब सिंह ने बताया कि आयुष्मान भारत गोल्डन ई.कार्ड बनाने को लेकर लाभुकों को जागरूक करने के लिए ई. रिक्शा जागरूकता रथ के माध्यम से माइकिंग की जा रही है। जागरूकता रथ जिले के पंचायतों में घूम-घूमकर माइकिंग के जरिये गोल्डन कार्ड बनाने को ले लोगों को जागरूक करेगी, ताकि गोल्डन कार्ड बनाने के लक्ष्य को शत- प्रतिशत प्राप्त किया जा सके। वहीं सभी आरटीपीएस पटल, ग्राम पंचायत, प्रखंड में प्रचार-प्रसार के लिए होर्डिंग एवं बैनर भी लगाया जाएगा।

 52 total views,  1 views today

shyam ji

shyam ji

Leave a Reply