सी एम कॉलेज के 4 प्राध्यापकों ने इग्नू समन्वयक डा आर एन चौरसिया के नेतृत्व में किया वाजितपुर का निरीक्षण

सी एम कॉलेज के 4 प्राध्यापकों ने इग्नू समन्वयक डा आर एन चौरसिया के नेतृत्व में किया वाजितपुर का निरीक्षण
WhatsApp Image 2021-01-08 at 15.08.21
WhatsApp Image 2021-01-17 at 13.22.37
tall copy
WhatsApp Image 2021-01-26 at 12.25.37
Untitled-1

दरभंगा संवाददाता

नदी-कटाव,शिक्षा-व्यवस्था तथा स्वच्छता व स्वास्थ्य आदि हैं वाजितपुर की मूल समस्याएं

अनवरत जागरूकता तथा नगर निगम, जनप्रतिनिधियों व जिला प्रशासन के सहयोग से होगा समस्याओं का निदान

गोद लिया गया मोहल्ला वाजिदपुर में 26 फरवरी को होगा 10 दिवसीय एनएसएस शिविर का उद्घाटन

 

सी एम कॉलेज दरभंगा की एनएसएस इकाई दो तथा महाविद्यालय के इग्नू अध्ययन केंद्र द्वारा गोद लिये गये मोहल्ले वाजितपुर, किलाघाट का सी एम कॉलेज,दरभंगा के चार प्राध्यापकों- डा राफिया काजिम,प्रो अखिलेश कुमार राठौर तथा प्रो रितिका मौर्या ने इग्नू समन्वयक डा आर एन चौरसिया के नेतृत्व में गहन निरीक्षण किया। इस दौरान प्राध्यापकों ने वहां के वार्ड पार्षद, प्राथमिक विद्यालय के प्रभारी प्रधानाचार्य,अवकाश प्राप्त व्यक्तियों,युवाओं एवं महिलाओं आदि से बातचीत कर वहां की समस्याओं तथा निदान के उपायों से रूबरू हुए।स्थानीय निवासियों ने बताया कि बागमती नदी का कटाव तीव्र गति से हुआ है,जिससे जान-माल का भारी खतरा उत्पन्न हो गया है। साथ ही यहां शिक्षा-व्यवस्था,स्वच्छता एवं स्वास्थ्य आदि की गंभीर समस्या है।
ज्ञातव्य है कि वाजिदपुर मोहल्ला दरभंगा नगर निगम के वार्ड नंबर 23 तथा सी एम कॉलेज के पश्चिम नदी के पार स्थित है जो अनुसूचित जाति, अल्पसंख्यक तथा पिछड़ी जाति बाहुल्य है।
नदी के पश्चिम में तटबंध नहीं होने के कारण लगभग हर साल वाजितपुर को गंभीर बाढ़ व कटाव की समस्या का सामना करना पड़ता है।यद्यपि सरकार की ओर से हर बार बाढ-काल में भोजन एवं राहत सामग्री के अलावा निर्धारित राशि का भुगतान किया जाता है,परंतु बाढ़ और कटाव का स्थाई समाधान अभी तक नहीं हो पाया है। प्राध्यापकों ने डा प्रेम कुमारी, विजय कुमार पासवान,उमा शंकर पासवान,वार्ड पार्षद गीता देवी,प्राथमिक विद्यालय प्रभारी संजय कुमार,विक्रांत पासवान,हंस दास,अनिशा कुमारी,राखी कुमारी,मनोरथ पासवान,उमेश कुमार पासवान,विशंभर पासवान, गंगा प्रसाद आदि व्यक्तियों से गहन बातचीत की गई।
इग्नू समन्वयक डा आर एन चौरसिया ने बताया कि महाविद्यालय द्वारा अनवरत जागरूकता कार्यक्रम के साथ ही नगर निगम, जनप्रतिनिधियों तथा जिला प्रशासन के सकारात्मक सहयोग से वाजिदपुर की समस्याओं का निदान किया जाएगा। वहीं एनएसएस पदाधिकारी ने कहा कि विशेष शिविर के दौरान 10 दिनों तक वाजितपुर में शिक्षा,स्वच्छता,स्वास्थ्य तथा पर्यावरण पर विशेष जागरूकता अभियान चलाया जाएगा।

 19 total views,  2 views today

shyam ji

shyam ji

Leave a Reply