केरोसिन जलाने पर विस्फोट मामला डीलर की लापरवाही के संकेत

केरोसिन जलाने पर विस्फोट मामला डीलर की लापरवाही के संकेत
WhatsApp Image 2021-01-08 at 15.08.21
WhatsApp Image 2021-01-17 at 13.22.37
tall copy
Untitled-1
WhatsApp Image 2021-03-05 at 1.52.50 PM

हजारीबाग
शाद्वल कुमार
हजारीबाग : किरोसीन उपयोग के लायक नहीं, लिया जा रहा है वापस

हजारीबाग जिला के सदर प्रखंड के चुटियारो एवं अमनारी पंचायत में केरोसिन जलाने के क्रम में विस्फोट होने के मामले में आइओसीएल के लैब ने पीडीएस से लिए गए केरोसीन तेल के सैंपल की जांच रिपोर्ट जिला प्रशासन को भेज दी है। रिपोर्ट मिलने के बाद उपायुक्त आदित्य कुमार आनंद ने इस बाबत पत्रकारों को जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जांच रिपोर्ट के अनुसार जो सैंपल लिए गए हैं, उसका फ्लैस पॉइंट 13.5 डिग्री सेल्शियस है। अमूमन किरासन तेल का फ्लस पॉइन्ट 35 डिग्री से अधिक रहता है। ऐसे में जो केकेरोसिन पीडीएस से वितरित किया गया है वह उपयोग के लायक कतई नहीं है। उन्होंने कहा कि किरासन तेल के मामले में डीपों से लेकर पीडीएस तक वितरण की जवाबदेही डीलर की रहती है। ऐसे में कहीं ना कहीं डीलर आर्मी ट्रेडिंग कंपनी से लापरवाही हुई है, हालांकि उन्होंने कहा कि 6 और सैंपल जो विभिन्न स्थानों से लिए गए, उसे जांच के लिए आई ओ सीएल के तकनीकी लैब को भेजा गया है। एक-दो दिनों में रिपोर्ट आ आने के बाद और बहुत कुछ स्पष्ट हो जाएगा। उपायुक्त ने कहा कि टैंकर से बंटे किरोसिन तेल को वापस मंगा लिया जा रहा है, क्योंकि यह उपयोग के लायक नहीं है। उन्होंने कहा कि पूरी जांच रिपोर्ट मिल जाने पर दोषी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। मृतकों व घायलों को मुआवजा के बाबत पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि आज उन्होंने आईओसीएल के अधिकारियों से ऐसे मामले में बात की, लेकिन उन्होंने मुआवजा के प्रावधान से इनकार किया है। ऐसे में जिला प्रशासन सभी पहलुओं पर विचार कर मुआवजा के बाबत निर्णय लेने का काम करेगा।

 44 total views,  2 views today

shyam ji

shyam ji

Leave a Reply