तेजस्वीजी बिहार को नीचे से तीसरे पायदान पर देखना चाहते हैं : मंगल पांडेय

तेजस्वीजी बिहार को नीचे से तीसरे पायदान पर देखना चाहते हैं : मंगल पांडेय
WhatsApp Image 2021-01-08 at 15.08.21
WhatsApp Image 2021-01-17 at 13.22.37
tall copy
Untitled-1
WhatsApp Image 2021-03-05 at 1.52.50 PM

पटना

जान व परिवार की परवाह किये बगैर सेवा करने वाले स्वास्थ्यकर्मी साधुवाद के पात्र

प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा है कि विगत 11 महीनों में बिहार के चिकित्सकों एवं चिकित्साकर्मियों ने अथक परिश्रम और प्रयास करके बिहार में कोरोना के संक्रमण को रोकने में काफी हद तक सफलता प्राप्त की। इस काम को करते समय चिकित्सकों एवं चिकित्साकर्मियों ने अपनी एवं परिजनों की भी जान की परवाह नहीं की। कोरोनाकाल में लगभग 37 चिकित्सकों एवं चिकित्साकर्मियों ने अपनी जान गंवाई। उस वक्त नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादवजी पूरे सीन से गायब थे और बीच- बीच में गलत तथ्यों पर आधारित बयान देते रहे। उन्हें कोरोना मरीजों की चिंता थी या किसी प्रकार की शिकायत थी तो उस वक्त नेता प्रतिपक्ष को भ्रमण करने में क्या परेशानी थी?
श्री पांडेय ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष चिकित्सकों एवं चिकित्साकर्मियों के मनोबल को तोड़ने का प्रयास शुरू से कर रहे हैं। बिहार में कोरोना से मृत्यु दर पूरे देश की तुलना में काफी कम 0.55 फीसदी के करीब रहा, रिकवरी रेट भी हमेशा देश में सर्वाधिक के करीब रहा। यह बेहतर प्रदर्शन नेता प्रतिपक्ष को कभी पचा नहीं। चूंकि उनकी पार्टी के शासन काल में बिहार हमेशा नीचे से दूसरे- तीसरे पायदान पर रहता थाl
श्री पांडेय ने कहा कि कोरोना जांच के संबंध में डाटा इंट्री में गड़बड़ी की जानकारी जैसे ही प्राप्त हुई, विभाग ने उसी दिन मुख्यालय स्तर से दस टीम बनाकर एवं राज्य के सभी 38 जिलों में जिला प्रशासन से बात कर जाँच के आदेश के साथ त्वरित कार्रवाई की। जमुई जिले में कार्रवाई करते हुए सात लोगों को निलंबित एवं सेवा से बर्खास्त किया गया और अन्य जिलों में भी जिलाधिकारियों के माध्यम से निरंतर जांच करायी जा रही है। अररिया एवं शिवहर से मिली गड़बड़ी की जांच की जा रही है। नेता प्रतिपक्ष को संपूर्ण चिकित्सकों एवं चिकित्साकर्मियों पर आरोप लगाने के बदले उनकी प्रशंसा करनी चाहिए। कोविड-19 संकमण के दौरान असामान्य एवं आपातकालीन परिस्थितियों के दौरान अपनी जान एवं परिजनों की परवाह किये बगैर कर्तव्य पालन के लिए चिकित्सक व चिकित्साकर्मी साधुवाद के पात्र हैं।

 56 total views,  2 views today

shyam ji

shyam ji

Leave a Reply