समस्तीपुर जिला बना जुआ और सट्टा कारोबारियों के लिए स्वर्ग, हर रोज करोड़ों रुपए का होता है कारोबार

समस्तीपुर जिला बना जुआ और सट्टा कारोबारियों के लिए स्वर्ग, हर रोज करोड़ों रुपए का होता है कारोबार
WhatsApp Image 2021-01-08 at 15.08.21
WhatsApp Image 2021-01-17 at 13.22.37
tall copy
Untitled-1
WhatsApp Image 2021-03-05 at 1.52.50 PM

समस्तीपुर

समस्तीपुर जिला इन दिनों अवैध और प्रतिबंधित जुआ व सट्टा तथा शराब कारोबारियों के लिए स्वर्ग बना हुआ है। पुलिस की जानकारी में जिले के हर चौक चौराहों पर जुआ सट्टा और अवैध शराब का करोड़ों रुपए का कारोबार खुलेआम हो रहा है। जिस कारण आम आदमी का जीना दूभर हो गया है तथा इसको लेकर जिले में आपराधिक वारदातों में भी वृद्धि देखने को मिल रही है। वहीं चल रहे अवैध जुआ और सट्टेबाजी में गरीब मजदूर हर रोज अपनी मेहनत की कमाई फूंक देते हैं जिस कारण उनके घरों में हर रोज कलह होता है। सट्टा और जुआ के धंधे से एक तरफ शहर के लोग परेशान हैं, वहीं जिला पुलिस प्रशासन अपना कोरम पूरा कर निश्चिंत है। जानकारों का कहना है लाटरी के धंधेबाजों की पुलिस पर पकड़ इतनी मजबूत है कि कोई सट्टेबाज पकड़ा भी जाता है तो वो दो-चार घंटे में थाने पर से छूट कर फिर से अपने धंधे में लिप्त हो जाता है। जानकारी के अनुसार शहर के अनुरूप सिनेमा के पीछे बांध किनारे, बंगाली टोला जेनरेटर गली, पान मंडी, मालगोदाम चौक, धरमपुर में मिडिल स्कूल के पास, पासवान चौक, रेलवे पुल के समीप बांध किनारे, जितवारपुर में सोने लाल ढ़ाला और पावर हाउस चौक, बिशनपुर चौक एवं मालती गाछी में जैसे दर्जनों जगहों पर सट्टेबाजों द्वारा खुलेआम लाटरी का धंधा हो रहा है। जिस कारण इन दिनों चोरी की घटनाओं में भी इजाफा देखने को मिल रहा है। सूत्रों के अनुसार पुलिस की सहभागिता से जिले के सभी चौक चौराहे से लेकर गली-गली में प्रतिबंधित लाटरी और सट्टा का धंधा फल फूल रहा है। नाम ना छापने की शर्त पर एक व्यक्ति ने बताया कि वह अब तक तकरीबन 20 हजार रुपए हार चुका है और अब उसके पास जरूरी काम के लिए पैसे नहीं बचे हैं। आपको बता दें कि जुएबाजी और उसके लत के कारण चोरी की घटनाओं में वृद्धि देखने को मिली है। इसको लेकर जिला पुलिस कप्तान से बात करने का प्रयास किया गया तो पता चला कि वह छुट्टी पर हैं और दो-तीन दिनों के बाद ही उनसे बात हो सकती है। आपको बता दें कि बीते 1 फरवरी को जिला लोक जनशक्ति पार्टी के पदाधिकारियों के द्वारा इस संबंध में जिला पुलिस अधीक्षक से मुलाकात कर जिले में चल रहे अवैध जुए और सट्टे के कारोबार पर रोक लगाने की मांग की गई थी लेकिन आज तक जिला पुलिस प्रशासन के द्वारा इस पर कोई कार्रवाई नहीं की गई।

 41 total views,  1 views today

shyam ji

shyam ji

Leave a Reply